क्यों नहीं करते आज के दिन विवाह, नहीं रखते आम्रपाली नाम?

आज विवाह पंचमी है… अर्थात् श्रीराम और जानकी (सीताजी) के विवाह का पावन दिन… लेकिन कुसंयोग देखिए जानकी के ‘मिथिला’ सहित देश के विभिन्न भागों में आज के दिन लोग विवाह नहीं करते हैं…. लोगों का सीधा सीधा मानना है कि जब आज के दिन विवाह होने से सीताजी को जीवनपर्यंन्त कष्टों का सामना करना पड़ा तो हम क्यों उस दिन विवाह जैसा शुभ विधान संपन्न करें… यानी निज भजिए सीता-राम लेकिन नहीं चाहिए जीवन तेरे जैसा मुझकों सीता-राम’ हालांकि मैं ऐसे तीन लोगों से परिचित हूं जिनका विवाह ‘विवाह…

Read More