वह ‘पृथ्वी थियेटर’ का छोरा और वो ‘शेक्सपियराना’ की छोरी

P.M. तब शशि कपूर सिर्फ 18 साल के थे. तब उनके पिता की नाटक मंडली पृथ्वी थियेटर भी घुमंतू थी. वे पूरे देश में घूम-घूम कर नाटक किया करते थे. इन नाटक कंपनियों में पृथ्वीराज कपूर के बच्चे भी हुआ करते थे. पहले राज कपूर और शम्मी कपूर इस मंडली के हिस्सा हुआ करते थे. जब ये दोनों फिल्मों में आ गये तो छोटे शशि कपूर अपने पिता के साथ घूमने लगे. ऐसी ही एक ट्रिप पर वे 1956 में कलकत्ता पहुंचे, एक नाटक लेकर. वहां एक लोकल नाटक मंडली…

Read More