सरकारें यही चाहती है की कॉलेज में क्लासेज बंद रहे

आदित्य मोहन झा सरकारें यही चाहती है की कॉलेज में क्लासेज बंद रहे, आपके बच्चे गेस पेपर पढ़के परीक्षा दें और प्रोफेसर पैरवी देख के नम्बर. डिग्री लेने के बाद कुछ दिन आरएस अग्रवाल, प्रतियोगिता दर्पण रगड़ के बैंक-एसएससी-रेलवे की तैयारी हो और फिर हार के आपके बच्चे बिहार संपर्क क्रांति के स्लीपर बोगी में फाइन देके दिल्ली निकल जाए नौकरी करने. वो चाहते ही नहीं कि विश्वविद्यालय में पढ़ाई हो और लोग पढ़ लिख के योग्य बनें, नहीं तो उनकी भ्रष्ट, जाति-धर्म और नकारापन से भरी राजनीति पे सवाल…

Read More