मेरे लिये किसी के टॉप होने से बड़ी खबर है कोमल का मैट्रिक पास करना

कल बिहार में दसवीं का रिजल्ट आया है. आज मीडिया में हर तरफ उन बच्चों का जिक्र है जो अपने राज्य या अपने जिले के टॉपर हैं. ऐसे में कहलगांव के हमारे पत्रकार मित्र प्रदीप विद्रोही एक अलग ही कहानी लेकर आये हैं. यह कहानी कोमल की है, महादलित जाति की कोमल को वैसे तो सिर्फ 42.4 फीसदी अंक आये हैं. मगर उसकी कहानी इसलिए महत्वपूर्ण है कि 150 साल से बसे भागलपुर के घोघा के मुशहरी टोला की वह पहली मैट्रिक पास है. 50-60 घरों के उस टोले में…

Read More