कन्हैबा, गिरराज बाबू और बेगुसराय, ई बेकुफसराय थोड़े ही है

पुष्यमित्र गिरराज बाबू नम्बर वन हैं, तनवीर हसन दू नम्बर पर और कन्हैबा तीन नम्बर पर। लिखकर रख लीजिये। यही फाइनल रिजल्ट होगा। कन्हैबा को गठबंधन का टिकट मिल गया होता तो जरूर वह आज आगे होता। अभी तो महागठबंधन लड़ रहा है, गिरराज बाबू को बैठे बैठे फायदा हो रहा है। कोई भुमिहार उमिहार कन्हैबा को वोट नहीं देगा। बेगूसराय है, बेकुफसराय थोड़े ही है। आ लेफ्ट भी पूरा कन्हैबा के साथ नहीं है। शत्रुघ्न बाबू खार खाए बैठे हैं। मीटिंग उटिंग में जाते जरूर हैं, मगर अन्दरे अन्दर…

Read More