जल संपन्न उत्तर बिहार का सूखा- देर तो हो ही गयी अब तो दुरुस्त हो जाइये

पुष्यमित्र मीठे जल वाली एशिया की सबसे बड़ी गोखुर झील कांवर इन दिनों पूरी तरह सूख चुकी है. मगर यह राष्ट्रीय क्या, स्थानीय मीडिया के लिए भी कोई खबर नहीं है. खबर तो यह भी नहीं है कि पग-पग पोखर वाले मिथिलांचल के इलाके में वाटर लेवल इतना गिर गया है कि लोग गांव-गांव में 320 फीट की डीप बोरिंग करवाने पर मजबूर हैं. कभी इस इलाके में 30-40 फीट पर ही पानी मिल जाता था. खबर यह भी नहीं है कि लोग ब्रह्ममुहूर्त में ही गैलन लेकर पानी की…

Read More

रामविलास की गोद में भी कुपोषित ही रह गया अकबर मलाही का छड़ी उद्योग

संजीत भारती केन्दीय मंत्री रामविलास पासवान ने जब अपने लोकसभा क्षेत्र हाजीपुर के सराय के अकबर मलाही गांव को गोद लेने की घोषणा की थी, तब इलाके के लोगो में खुशी की लहर दौड़ गयी थी. लोगों को उम्मीद थी कि अपने ठोस विजन से वे गांव में विकास की इबारत लिखेंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. पांच साल बीत गए, पर विकास कार्य अब तक ठप पड़े हैं. गोद लेने के बावजूद गांव की दम तोड़ती छड़ी उद्योग, जर्जर सडकें, गंदगी, नहीं बने अस्पताल, शुद्ध पेयजल की समस्या, रोजगार की…

Read More