पूर्णिया में नहीं लगी पंचलैट तो इस शख्स ने करा लिया है पूरा सिनेमा हॉल बुक

कहते हैं, अक्सर छोटे-छोटे शहरों में बड़े-बड़े काम हो जाया करते हैं. यह खबर इसी बात का नमूना है. पिछले दिनों रेणु की कहानी पर बनी फिल्म पंचलैट रिलीज हुई थी. रेणु के पुराने शहर पूर्णिया के लोग अपने लेखक की कहानी पर बनी इस फिल्म को देखना चाहते थे. मगर शहर के किसी हॉल में यह फिल्म रिलीज नहीं हुई. ऐसे में एक दीवाने ने अपने शहर के एक सिनेमा हॉल का एक पूरा शो ही बुक करा लिया है. वह अपने शहर के बुजुर्गों को यह फिल्म मुफ्त में दिखाना चाह रहा है. पूर्णिया के रूपवाणी सिनेमा हॉल में पंचलैट का शो 20 दिसंबर को होगा. पढ़िये पूर्णिया भास्कर में प्रकाशित बासु मित्र की यह रिपोर्ट थोड़े बदलाव के साथ…

बासु मित्र

बासुमित्र, संवेदनशील औऱ लोकोपयोगी विषयों पर खोजी नजर रखने वाले पत्रकार हैं और फिलहाल दैनिक भास्कर से जुड़े हैं

51 साल बाद शहर के लोग महान कथाकार फणीश्वरनाथ रेणु की कहानी पर बनी एक और फिल्म पंचलैट का लोग सिनेमा के रुपहले पर्दे पर आनंद उठा सकेंगे, वह भी मुफ्त में. लोगों को फिल्म दिखाने का जिम्मा शहर के संस्कार सेवा समिति ने उठाया है, जिसके संस्थापक प्रसिद्ध समाजसेवी अनिल चौधरी हैं. लोगों को मुफ्त में सिनेमा दिखाने के लिए पूरा सिनेमा हॉल ही बुक कर लिया है. यह फिल्म 20 दिसंबर को पूर्णिया में एक शो 12 बजे से 3 बजे तक रूपवाणी सिनेमा हॉल ने फिल्म दिखाया जाएगा. फिल्म प्रदर्शन के दौरान रेणु के परिजनों के शामिल होने की भी उम्मदी है. समाज सेवी अनिल चौधरी के इस प्रयास से रेणु के परिजन काफी उत्साहित नजर आ रहे हैं.

बुजुर्गों को खुशनुमा माहौल देने के लिए उठाया कदम

अनिल चौधरी बताते हैं कि रेणु जी न सिर्फ हमारे अंचल के बल्कि देश के महान कथाकारों में से एक हैं. मेरे मन में अपने समाज से बुजुर्गों के लिए कुछ करने की इच्छा थी. आज यहां के बुजुर्गों के मनोरंजन का कोई साधन नहीं है. कम से कम इस फिल्म के माध्यम से वह 3 घंटे आनंद उठा सकते हैं. लोग संस्कार सेवा समिति में संपर्क कर टिकट का रजिस्ट्रेशन मुफ्त में करवा सकते हैं.

पूर्णिया के लोग नहीं देख सके थे फिल्म

समाजसेवी अनिल चौधरी

अनिल आगे बताते हैं कि पंचलैट फिल्म 17 नवंबर को रिलीज हुई थी, उस समय यहां के लोगों के मन से उम्मीद थी कि फिल्म का प्रदर्शन पूर्णिया में होगा लेकिन फिल्म उस समय यहां नहीं प्रदर्शित हुई थी. इस वजह से लोगों को फिल्म दिखाने का ख्याल आया.

पूरे देश में फिल्म पंचलैट की हो चुकी है सराहना

भले ही इस फिल्म का प्रदर्शन कम सिनेमा घरों में किया गया हो, लेकिन फिल्म को काफी सराहना मिली है. मुम्बई, दिल्ली, पटना समेत तमाम शहरों में लोगों ने इस फिल्म खूब पसंद किया है. इस इलाके में यह फिल्म फारबिसगंज में लगी थी, वहां भी फिल्म को लेकर लोगों में काफी ज्यादा उत्साह दिखा था.

यह रेणु के प्रति अंचल के लोगों का प्यार

फणीश्वर नाथ रेणु के बेटे फारबिसगंज के पूर्व विधायक पदमपराग वेणु और दक्षिणेश्वर राय बताते हैं कि यह रेणु के प्रति अंचल के लोगों का प्यार ही है कि लोग उनकी रचनाओं को काफी शिद्दत से याद करते हैं. दक्षिणेश्वर राय बताते है कि पूरे रेणु परिवार के मन में यह इच्छा थी, पंचलैट फिल्म का प्रदर्शन पूरे सीमांचल में हो ताकि यहां के लोग एक बार फिर रेणु जी रचना को जी सकें. जिस तरह से अनिल चौधरी की संस्था संस्कार सेवा भरी ने लोगों को फिल्म दिखाने के लिए यह प्रयास किया है, वह काबिले तारीफ़ है. उम्मीद है कि लोग इसका भरपूर आनंद लेंगे.

Spread the love

Related posts

One Thought to “पूर्णिया में नहीं लगी पंचलैट तो इस शख्स ने करा लिया है पूरा सिनेमा हॉल बुक”

  1. Kumar saurav

    बहुत ही बढ़िया प्रयास अनिल चौधरी भैया का